WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Jharkhand Rajya Fasal Rahat Yojana: इस स्कीम से किसानों को मिलेगा ₹5000/एकड़ मुआवजा, आज ही करें आवेदन

Spread the love

किसानों की आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए सरकारें विभिन्न प्रकार की योजनाएँ चलाती है। जैसे केंद्र सरकार की किसान सम्मान निधि योजना किसानों के लिए काफी फायदेमंद है। इसी तरह से फसल बीमा योजना जैसी योजनाएँ भी किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

इसी को देखते हुए झारखंड सरकार ने किसानों के हित्त में एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है। इसके तहत सरकार ने ‘झारखंड राज्य फसल राहत योजना’ का शुभारंभ किया है। इस योजना का उद्देश्य फसलों को प्राकृतिक नुकसान होने पर आर्थिक सहायता प्रदान करना है। जिसके तहत सरकार आधी से ज्यादा फसल बर्बाद होने पर किसानों को ₹5000/एकड़ के हिसाब से मुआवजा देगी।

Jharkhand Rajya Fasal Rahat Yojana  Apply Online 2024

योजना  का नाम झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना
योजना का उद्देश्यकिसाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना
जारी करने वाली संस्थाझारखंड सरकार
साल 2024
लाभकिसानों को प्राकृतिक आपदा से नुकसान होने वाली फसल का मुआवजा मिलेगा
राज्य झारखंड
आधिकारिक वेबसाइटhttps://jrfry.jharkhand.gov.in/
आवेदन का तरीकाऑनलाइन

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना क्या है?

झारखंड राज्य फसल राहत योजना प्राकृतिक आपदा से फसल को होने वाले नुकसान की भरपाई करने के लिए किसानों को सरकार द्वारा दी गई एक सौगात है। अगर किसी किसान की फसल किसी प्राकृतिक आपदा के कारण 30%-50% खराब होती है, तो उसे सरकार द्वारा ₹3,000/एकड़ के हिसाब से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके अलावा किसी किसान की फसल 50 फीसदी से अधिक खराब हो जाती है, तो उसे ₹5,000/एकड़ के हिसाब से मुआवजा दिया जाएगा। यह योजना किसी भी प्राकृतिक आपदा जैसे ओलावृष्टि, बाढ़, तूफान, बारिश, चक्रवात, जलभराव, भूस्खलन, सूखा आदि के कारण फसलों को होने वाले नुकसान की भरपाई कर किसानों को सहायता प्रदान करती है।

झारखंड राज्य फसल राहत योजना (JRFRY) कोई फसल बीमा योजना नहीं है, बल्कि फसल खराब होने की स्थिति में किसानों को प्रदान की जाने वाली एक मुआवजा योजना है। सरकार के अनुसार इससे प्राकृतिक आपदा से फसल को नुकसान होने की स्थिति में किसानों को एक निश्चित आर्थिक सहायता प्रदान करने का संकल्प पूरा होगा।

यह योजना भूमि मालिकों और भूमिहीन किसानों दोनों को कवर करेगी। इस योजना के तहत किसानों को किसी भी प्रकार की फसल बीमा प्रीमियम का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं होगी और फसल क्षति की स्थिति में उन्हें सरकार द्वारा सीधी सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के फायदे?

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के फायदे इस प्रकार है:

  •  जिन किसानों को प्राकृतिक आपदाओं से नुकसान होता है, यह योजना उस नुकसान को कम करेगी।
  • सरकार ने इस योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए ₹2000 करोड़ का बजट पारित किया है।
  • अगर फसल किसी प्राकृतिक आपदा के कारण 30%-50% खराब होती है, तो उसे सरकार द्वारा ₹3,000/एकड़ के हिसाब से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा किसी किसान की फसल 50 फीसदी से अधिक खराब हो जाती है, तो उसे ₹5,000/एकड़ के हिसाब से मुआवजा दिया जाएगा।
  • इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए किसान को कोई शुल्क नहीं देना होगा।
  • इस योजना के तहत मुआवजे की राशि सीधे किसान के बैंक अकाउंट में ट्रान्सफर की जाती है

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के उद्देश्य

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के मुख्य उद्देश्य इस प्रकार हैं:

  •  इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है, ताकि उनकी आय में सुधार हो।
  • भारत में अक्सर प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों को नुकसान होता है, यह योजना इस नुकसान की भरपाई करेगी।
  • यह सहायता आगामी फसल वर्ष की बुआई के समय प्रदान की जाएगी।
  • यह योजना किसानों को आर्थिक सुरक्षा और सहायता प्रदान करती है, जो उनकी आत्मनिर्भरता को बढ़ाती है।

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के लिए पात्रता

  • योजना के लिए सबसे बड़ी पात्रता आवेदक झारखंड का स्थायी निवासी और किसान होना चाहिए।
  • इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • आवेदक या आवेदक के परिवार का सदस्य किसी भी सरकारी नौकरी या पेंशनभोगी नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक का आधार कार्ड से लिंक बैंक अकाउंट होना चाहिए।

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

 आवेदन करने की प्रक्रिया इस प्रकार है-

  1. सबसे पहले आवेदक को सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. जहां आपके सामने होम पेज पर ‘पंजीकरण’ के ऑप्शन में ‘किसान पंजीकरण करें’ के टैब पर क्लिक करें।
Jharkhand Rajya Fasal Rahat Yojana

  1. इसके बाद आपके सामने ‘रजिस्ट्रेशन फॉर्म’ खुल जाएगा।
Jharkhand Rajya Fasal Rahat Yojana

  1. इस फॉर्म में आपको अपनी आधार डिटेल्स भरनी है। फिर OTP की मदद से आपको रजिस्ट्रेशन करना है।
  2. इसके बाद आप आपको रजिस्ट्रेशन आईडी और पासवर्ड मिल जाएगा।
  3. फिर आप इस आईडी और पासवर्ड की मदद से लॉग-इन करना हैं।
  4. जहां आपको अपनी फसल ‘रबी’ या ‘खरीफ’ का चयन कर एप्लीकेशन फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी भरनी है। जैसे- आधार कार्ड में अंकित नाम, मोबाइल नंबर, पिता का नाम, जन्म तिथि, लाभार्थी का पता, श्रेणी, बैंक अकाउंट डिटेल्स।
  5. फिर किसान को अपनी भूमि की जानकारी देकर इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है।

आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • जन्म का प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • भूमि पावती
  • आइडेंटिटी प्रूफ
  • मोबाइल नंबर, आदि।

निष्कर्ष

तो दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिक्ल झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना जिसमें हमने इस योजना की बुनियादी बातों के बारे में अच्छे से जाना। साथ ही हमने झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के लिए अप्लाई करने की प्रक्रिया के बारे में भी जाना। अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको इसके लिए अवश्य आवेदन करना चाहिए।

होम पेजClick Here
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

FAQs

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना क्या है?

यह योजना किसी भी प्राकृतिक आपदा जैसे ओलावृष्टि, बाढ़, तूफान, बारिश, चक्रवात, जलभराव, भूस्खलन, सूखा आदि के कारण फसलों को होने वाले नुकसान की भरपाई कर किसानों को सहायता प्रदान करती है।

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के क्या फायदे है?

जिन किसानों को प्राकृतिक आपदाओं से फसल का नुकसान होता है, यह योजना उस नुकसान को कम करेगी।

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के क्या उद्देश्य है?

इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है, ताकि उनकी आय में सुधार हो।

झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना की ऑफ़िशियल वेबसाइट कौनसी है?

https://jrfry.jharkhand.gov.in/


Spread the love

Leave a Comment